प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका

विदेह नूतन अंक
वि दे ह विदेह Videha বিদেহ http://www.videha.co.in विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका Videha Ist Maithili Fortnightly ejournal विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका नव अंक देखबाक लेल पृष्ठ सभकेँ रिफ्रेश कए देखू। Always refresh the pages for viewing new issue of VIDEHA.

 

राज किशोर मिश्र

कौआ

कौ आ तो हर का उँ-का उँ,
आब नी क लगैत अछि ,

तो हर सो चब -सो च ,
बड़ सटी क लगैत अछि ।

तोँ तँ ने हो इ छेँ हि न्नू,
आ' ने तोँ मुसलमा न,

दहेज लेल ने का टर ,ने
को जगरा क भा र-चुमा न।

दक्षि ण-पथ नहि वा म- मा र्ग,
तोँ ने ब्रा ह्मण, तोँ ने शूद्र ,
एक्कहि ग्रहक वा सी भऽ कऽ,
धेलकहु ने पक्षपा ती -क्षुद्र।

का री भेलेँ तँ नी ग्रो नहि ,
गरदनि गो र ,तँ तोँ नहि अङरेज,
तो रा मे ने को नो रङ्ग-भेद ,
बढ़ि आँ छौ नस्लवा द-परहेज।

का ग -का ग मे कहाँ देखलि औ, इरखा -द्वेष?
मा रि -मरौ अलि ,खून-खूना मय, फौ दा री -केश।

जेहने अफ्री का , तेहने युरो प,
का गत्वक नहि मि सि ओ भरि लो प।

जुग-जुग सँ छौ एक्कहि स्वभा व,
केहनो हबा क नहि को नो प्रभा व।

नहि छेँ गरी ब , नहि छेँ अमी र,
अर्थशा स्त्रक तोँ तँ छेँ मा ही र।

वा यस, नहि तो हर प्रजा ति मे,
भेलैक संख्या क वि स्फो ट,
प्रकृति क अनुकूल गा मी तोँ ,
ने नमहर , ने तोँ छो ट।

गंगा गेलेँ असना न करय,
तँ तोँ पी लेँ महकल पा नि ,
अनुभव तो हर कहलकौ ,नी र
पी बी नी क सँ छा नि ।

रे कौ आ! प्रकृति क असली बौ आ !
चतुरो छेँ आ' छेँ बुधि आर,
मा दा का ग डा इनि ने जो गि नि ,
ने ओकर सा मा जि क बहि ष्का र।

मर्त्य लो क केँ नी क सँ बुझलेँ,
तोँ असंग्रही , तोँ वी तरा ग,
का गभुसुण्डी क वंशज! तो रा ,
भेटअओ खी र कि मड़ुआ-सा ग।

कंचन- पिं जर -बंधन केँ,
कौ आ तोँ ने छेँ गुला म ,
स्वा धी नता के सा धक तोँ ,
स्वच्छन्दता क चा ही ने दा म।

ने चा ही तो रा भी ख-दा न,
ने नुका -छि पी , बस का उँ -का उँ,
ने कौ ड़ि आ-का दर ,ने देखल तो रा
करैत कखनो डा उँ -डा उँ।

ने गुटबन्दी , ने रा जनी ति ,
ने पूरब-पछि म के लड़ा इ,
ने हा हुति ने स्वा र्थी प्रवृत्ति ,
ने बैसि करब अपनहि बड़ा इ।

ने प्रकृति -संसा धन पर कुठा रा घा त,
कएलेँ ने प्रदूषि त जल-मा टि -बसा त।

तोँ तँ प्रकृति क छेँ सपूत,
मुदा स्वा र्थ-सि द्धि मे के अछि पा गल?
प्रदूषण-धुंध मे ग्रह केँ धकेलि ,
तो रो बना देलकौ क अभा गल।

 

अपन मंतव्य editorial.staff.videha@gmail.com पर पठाउ।