logo   

वि दे ह 

प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका

मानुषीमिह संस्कृताम्

ISSN 2229-547X VIDEHA

विदेह नूतन अंक पद्य

 विदेह

मैथिली साहित्य आन्दोलन

Home ]

 

India Flag Nepal Flag

(c)२००४-२०२०.सर्वाधिकार लेखकाधीन आ जतए लेखकक नाम नहि अछि ततए संपादकाधीन।

 

वि  दे  ह विदेह Videha বিদেহ http://www.videha.co.in  विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका Videha Ist Maithili Fortnightly e Magazine  विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका  नव अंक देखबाक लेल पृष्ठ सभकेँ रिफ्रेश कए देखू।

 

कल्पना झा- एकटा कविता

ने एतय छी ,

ने ओतय छी,

हम कतैय छी?

हम असोराक ओ रउद छी,

जे छजाक लाइंघ खसैय छी,

हम पाइनक ओ धार छी,

ज्यों रुकैत छी त मांटी में लपटायल थाल छी,

हम मरबाक ओ दाबा छी,

जे नेहू नहू ढहय छी,

हम देवालक ओ इंटेबा छी,

जे नूनी लाइग खसैत छी,

हम कोन सूरत में गढल छी,

जेकर नहिं कोनो स्वरुप छी,

हम ओ राहगीर छी,

ज्यों रुकैत छी त थकैत छी,

हम चौखैट के भीतर घुटैत छी,

मगर डेग बढाबैथ डरैय छी,

संस्कार क छवि सं ओझरायल,

हम कुहिर रहल छी,

ने एतय छी,

ने ओतय छी,

हम कतैय छी ?

-कल्पना झा, बोकारो

 

 

अपन मंतव्य editorial.staff.videha@gmail.com पर पठाउ।